जैसे ही रक्षा बंधन का त्योहार बीतता है हम सब जन्माष्टमी की तैयारियों में लग जाते है। जन्माष्टमी के दिन हिंदू भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था। हमारे भारत में इस पर्व को अपनी अलग ही खुशी होती है। सभी इस त्योहार को बड़े ही धूमधाम से मनाते है। इस दिन लोग अपने घरों में झाकियां सजाते हैं। तरह तरह के पकवान तो भारतवर्ष के त्योहारों की खासियत है। यह त्योहार और भी खास हो जाता है जब आपके घर में कोई छोटा सा बच्चा हो। ऐसे में लोग अपने बच्चे को जन्माष्टमी के दिन श्री कृष्ण की वेश भूषा में तैयार करते है। ऐसे में आज हम बात करेंगे की किन किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

वैसे तो बच्चों के लिए बाजार में कान्हा के कई तरह के सुंदर सुंदर कपड़े मिल ही जाते है। ऐसे में यदि आप चाहें तो अपने बच्चे को सफेद और पीले रंग के धोती कुर्ता पहनाए। इससे आपका बच्चा एकदम कान्हा की ही भांति बहुत प्यारा लगेगा। इसके अतिरिक्त यदि आप नही चाहती की आपका बच्चा धोती कुर्ता पहने तो आप उसे कुर्ता पायजामा भी पहना सकती हैं। बच्चो के लिए कुर्ता पायजामा या धोती कुर्ता का सेट आप दुकान या ऑनलाइन भी खरीद सकती हैं

इसके साथ ही आप अपने बच्चे को कान्हा की ही भांति एक प्यारी से बांसुरी भी लाकर दें। इसके साथ ही आप उसके लिए सफेद मोती की माला और झुमके भी लाए। इसके साथ ही कमरबंद, बाजूबंद और हाथों के लिए कंगन भी लाए। इसके अतिरिक्त सबसे जरूरी है प्यारे से कान्हा के लिए प्यारा सा मुकुट। अब बस कमी है तो सिर्फ मटकी और माखन की। जिसके साथ आपका बच्चा एकदम भगवान कृष्ण का बालरूप लगेगा।

Previous articleस्पोर्ट्स
Next articleबॉलीवुड की मसूर आइटम गर्ल्स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here